पत्ता पत्ता डाली डाली मेरा श्याम बसदा,
सारी सृष्टि दा ये मालिक मेरा श्याम सांवरा |सांसो की माला श्याम पुकारे,
राधे राधे श्याम उच्चारे,
मेरी सांसों की माला विच मेरा श्याम बसदा | | 1 | |दीवानी हो गई दर तेरे आके,
जग को मैं भूल बैठी तुझे अपना के,
जग नूं याद नहीं अब करना रूह विच श्याम बसदा | | 2 | |राधे राधे जिसने गाया,
श्याम ने उसको अपना बनाया,
राधा रानी के सहारे सारा जग चलदा | | 3 | |नैना श्याम के प्रेम प्याले,
पीवन वाले पीवें भर भर प्याले,
मुझको मस्ती दे विच मिलदा मेरा श्याम सांवरा | | 4 | |
जय राधे कृष्ण …..